Home / Tag Archives: पूज्य आचार्य (page 4)

Tag Archives: पूज्य आचार्य

चिरौंजी – Chiraunji

चिरौंजी [Calumpang -nut -Tree ] चिरौंजी के पेड़ भारत के पश्चिम प्रायद्वीप एवं उत्तराखण्ड में 450 मीटर की ऊँचाई तक पाया जाता है , महाराष्ट्र , नागपुर और मालाबार में अधिक मात्रा में पाये जाते हैं | इसके वृक्ष छाल ...

Read More »

Buttermilk – छाछ

छाछ (मठ्ठा ,तक्र )- दही को मथकर छाछ बनाया जाता है | छाछ अनेक शारीरिक दोषों को दूर करता है तथा आहार के रूप में महत्वपूर्ण है | छाछ या मठ्ठा शरीर के विजातीय तत्वों को बाहर निकालकर रोग प्रतिरोधात्मक ...

Read More »

अशोक – Ashok

अशोक यह भारतीय वनौषधियों में एक दिव्य रत्न है | भारतवर्ष में इसकी कीर्ति का गान बहुत प्राचीनकाल से हो रहा है | प्राचीनकाल में शोक को दूर करने और प्रसन्नता के लिए अशोक वाटिकाओं एवं उद्यानों का प्रयोग होता ...

Read More »

सौंफ – Anise

सौंफ प्रतिदिन घर में प्रयुक्त किए जाने वाले मसालों में से एक है। इसका नियमित उपयोग सेहत के लिए लाभदायक है। प्रायः गर्मियों की सब्ज़ियों में इसका उपयोग किया जाता है क्योंकि इसकी तासीर ठंडी है | * सौंफ और ...

Read More »

Inflammation of the gums – मसूड़ों की सूजन

मसूड़ों की सूजन (GINGIVITIS) मसूड़ों पर चोट लगने या अधिक गर्म पदार्थ व सख्त चीज़ें खाने से मसूड़ों पर दबाव पड़ता है,जिससे मसूड़ों में सूजन उत्पन्न हो जाती है | सूजन होने से मसूड़े ढीले पड़ जातें हैं जिससे दांतों ...

Read More »

चावल – Rice

चावल यह मूलतः भारत एवं चीन में पाया जाता है | इसकी विश्व के सभी उष्ण कटिबंधीय एवं उप उष्णकटिबंधीय देशों में कृषि होती है | चावल के शीतल एवं शक्तिवर्धक होने की वजह से इसका प्रयोग प्राचीन काल से ...

Read More »

Sweat – पसीना

पसीना पसीना आना शरीर की स्वाभाविक क्रिया है | यह शरीर को उसके सामान्य तापमान को बनाये रखने में मदद करता है | हमारे शरीर का सामान्य तापमान ३७ डिग्री सेन्टीग्रेड होता है और सारे कार्यों को संपादित करने हेतु ...

Read More »

Peepal – पीपल

पीपल – यह 24 घंटे ऑक्सीजन देता है | – इसके पत्तों से जो दूध निकलता है उसे आँख में लगाने से आँख का दर्द ठीक हो जाता है| – पीपल की ताज़ी डंडी दातून के लिए बहुत अच्छी है ...

Read More »

Father’s blessing – पिता का आशीर्वाद

पिता का आशीर्वाद एक बार एक युवक अपनी कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने वाला था। उसकी बहुत दिनों से एक शोरूम में रखी स्पोर्टस कार लेने की इच्छा थी। उसने अपने पिता से कॉलेज की पढ़ाई पूरी होने पर उपहारस्वरूप ...

Read More »

मखाना , मखान्न – Makhana , makhann

मखाना (मखान्न)  मखाना पोषक तत्वों से भरपूर एक जलीय उत्पाद है | भारत में यह मुख्यतः जम्मू-कश्मीर,पूर्वी पश्चिमी बंगाल के तालाबों,राजस्थान,उत्तर प्रदेश,बिहार,आसाम ,त्रिपुरा एवं मणिपुर में पाया जाता है | मखाना बलवर्धक होता है | इसका क्षुप कांटेदार तथा कमल ...

Read More »

Bitter gourd – करेला

करेला करेला के गुणों से सब परिचित हैं | मधुमेह के रोगी विशेषतः इसके रस और सब्जी का सेवन करते हैं | समस्त भारत में इसकी खेती की जाती है | इसके पुष्प चमकीले पीले रंग के होते हैं | ...

Read More »

पीलिया – Jaundice

पीलिया रक्त में लाल कणों की निश्चित आयु होती है | यदि किसी कारण इनकी आयु कम हो जाए और ये जल्दी ही अधिक मात्रा में नष्ट होने लगें तो पीलिया होने लगता है | यदि जिगर का कार्य भी ...

Read More »

किवी – Kiwi

किवी ऐसे कई पहाड़ी फल जो हमें बहुत स्वादिष्ट लगते हैं किन्तु उनके लाभों की हमें जानकारी ही नहीं होती। आइये इन्हीं फलों में एक की विशेषता आपको बताते हैं। इस फल का नाम है किवी जो एंटीएजिंग से लेकरडायबिटीज़ ...

Read More »

Tonsils – टॉन्सिल

टॉन्सिल [Tonsils ] गले के प्रवेश द्वार के दोनों तरफ मांस की गांठ सी होती है जिसे हम टॉन्सिल कहते हैं | इनमें पैदा होने वाली सूजन को टॉन्सिलाइटिस कहा है | इसमें गले में बहुत दर्द होता है तथा ...

Read More »

Anjanhari , guheri – अंजनहारी , गुहेरी

अंजनहारी (गुहेरी ) आँखों की दोनों पलकों के किनारों पर बालों (बरौनियों) की जड़ों में जो छोटी-छोटी फुंसियां निकलती हैं,उसे ही अंजनहारी,गुहेरी या नरसराय भी कहा जाता है | कभी-कभी तो यह मवाद के रूप में बहकर निकल जाती है ...

Read More »

Mulethi (yashtimdhu) – मुलेठी – यष्टीमधु

मुलेठी (यष्टीमधु ) मुलेठी से हम सब परिचित हैं | भारतवर्ष में इसका उत्पादन कम ही होता है | यह अधिकांश रूप से विदेशों से आयातित की जाती है| मुलेठी की जड़ एवं सत सर्वत्र बाज़ारों में पंसारियों के यहाँ ...

Read More »

Gall growth – पित्त वृद्धि

पित्त वृद्धि आयुर्वेद चिकित्सा विज्ञान के अनुसार मानव शरीर , प्रकृति में व्याप्त पांच तत्वों से मिलकर बना है ये तत्व हैं -वायु,जल,अग्नि,आकाश और पृथ्वी | आयुर्वेद ने इन पांच तत्वों को मूल तत्व समझते हुए इनकी उपस्थिति को वात ...

Read More »

Groin pain – कमर दर्द

कमर दर्द प्रायः कमर दर्द से सभी का सामना होता है | आजकल की व्यस्त जीवन शैली में कई बार शरीर में कमर दर्द की समस्या उत्पन्न हो जाती है | यह अधिकतर उन लोगों में होता है जो अधिक ...

Read More »

Tomatoes – टमाटर

टमाटर (रक्तवृन्ताक) – टमाटर मूलतः उष्णकटिबंधीय दक्षिण अमेरिका के पश्चिमी क्षेत्रों में पाया जाता है,परन्तु अब सर्वत्र भारत में इसकी खेती की जाती है | टमाटर में कई प्रकार के पौष्टिक गुण पाये जाते हैं | टमाटर में पाये जाने ...

Read More »