web stats
Home / Hindi / पिपरमिंट – Peppermint

पिपरमिंट – Peppermint

Peppermint

पिपरमिंट (Peppermint)
यह विश्व में यूरोप,एशिया,उत्तरी अमेरिका तथा ऑस्ट्रेलिया में पाया जाता है | समस्त भारत में यह बाग़-बगीचों में विशेषतः उत्तर भारत तथा कश्मीर में लगाया जाता है | यह अत्यंत सुगन्धित क्षुप होता है | इसके तेल,सत तथा स्वरस आदि का चिकित्सा में उपयोग किया जाता है | इसके पुष्प बैंगनी,श्वेत अथवा गुलाबी वर्ण के तथा पुष्पदण्ड के अग्र भाग पर लगे होते हैं | इसके फल चिकने अथवा खुरदुरे तथा बीज छोटे होते हैं | इसका पुष्पकाल एवं फलकाल सितम्बर से अप्रैल तक होता है |
पिपरमिंट का औषधीय प्रयोग –

१- पिपरमिंट के क्रिस्टल को दांतों के बीच में रखकर दबाने से दांत दर्द में लाभ होता है |

२- पिपरमिंट को छाती पर लगाने से श्वसन संस्थान गत सूजन में लाभ होता है |

३- पिपरमिंट क्रिस्टल का सेवन करने से उलटी,अतिसार,आध्मान तथा अजीर्ण में लाभ होता है |

४- २५ ग्राम पिपरमिंट सत में शक्कर मिलाकर सेवन करने से पेटदर्द तथा पेट के विकार ठीक होते हैं |

५- पिपरमिंट के पत्तों को पीसकर लगाने से चींटी आदि कीटों के काटने से होने वाली वेदना का शमन होता है |

Story Source: पूज्य आचार्य

****************

Peppermint
In this world, Europe, Asia, North America and Australia are found | All India especially in North India and Kashmir in the garden is put | it is extremely fragrant hazel | the oil, infusion therapy and Swrs etc. used in | the floral purple, white or pink characters and are mounted on the front of Pushpdnd | The fruit and seeds are small, smooth or rough | The florescence and from September to April is Flkal |
Medicinal use of peppermints –

1 peppermints in between the teeth by placing the crystals have the advantage in suppressing toothache |

2 peppermints putting on chest respiratory inflammation profit in the past |

3 peppermints, use of crystal vomiting, diarrhea, distension and indigestion profit in |

Peppermint extract mixed with 25 g sugars intake from 4 to gripe and stomach disorders are properly |

5 Peppermint leaves etc grinding pest ant bite by applying the mitigation of pain |

About Mohammad Daeizadeh

  • تمامی فایل ها قبل از قرار گیری در سایت تست شده اند.لطفا در صورت بروز هرگونه مشکل از طریق نظرات مارا مطلع سازید.
  • پسورد تمامی فایل های موجود در سایت www.parsseh.com می باشد.(تمامی حروف را می بایست کوچک وارد کنید)
  • Password = www.parsseh.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*