Home / Hindi / हरड़ – Harad – Haritaki

हरड़ – Harad – Haritaki

Haritaki

हरड़ 
हरड़ के नाम से तो हम सब बचपन से ही परिचित हैं | इसके पेड़ पूरे भारत में पाये जाते हैं | इसका रंग काला व पीला होता है तथा इसका स्वाद खट्टा,मीठा और कसैला होता है | आयुर्वेदिक मतानुसार हरड़ में पाँचों रस -मधुर ,तीखा ,कड़ुवा,कसैला और अम्ल पाये जाते हैं | वैज्ञानिक मतानुसार हरड़ की रासायनिक संरचना का विश्लेषण करने पर ज्ञात होता है कि इसके फल में चेब्यूलिनिक एसिड ३०%,टैनिन एसिड ३०-४५%,गैलिक एसिड,ग्लाइकोसाइड्स,राल और रंजक पदार्थ पाये जाते हैं | ग्लाइकोसाइड्स कब्ज़ दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं| ये तत्व शरीर के सभी अंगों से अनावश्यक पदार्थों को निकालकर प्राकृतिक दशा में नियमित करते हैं | यह अति उपयोगी है | आज हम हरड़ के कुछ लाभ जानेंगे –

१- हरड़ के टुकड़ों को चबाकर खाने से भूख बढ़ती है |

२- छोटी हरड़ को पानी में घिसकर छालों पर प्रतिदिन ०३ बार लगाने से मुहं के छाले नष्ट हो जाते हैं | इसको आप रात को भोजन के बाद भी चूंस सकते हैं |

३- छोटी हरड़ को पानी में भिगो दें | रात को खाना खाने के बाद चबा चबा कर खाने से पेट साफ़ हो जाता है और गैस कम हो जाती है |

४- कच्चे हरड़ के फलों को पीसकर चटनी बना लें | एक -एक चम्मच की मात्रा में तीन बार इस चटनी के सेवन से पतले दस्त बंद हो जाते हैं |

५- हरड़ का चूर्ण एक चम्मच की मात्रा में दो किशमिश के साथ लेने से अम्लपित्त (एसिडिटी ) ठीक हो जाती है |

६- हरीतकी चूर्ण सुबह शाम काले नमक के साथ खाने से कफ ख़त्म हो जाता है |

७- हरड़ को पीसकर उसमे शहद मिलाकर चाटने से उल्टी आनी बंद हो जाती है|

 Story Source: पूज्य आचार्य

***********************

Harad
Harad name so we all are familiar from childhood. There are frequent in entire India tree | Its color is black and yellow, and its taste is sweet and sour, astringent. Ayurvedic in harad who held that five juice-sweet, pungent, astringent and acid kaduva, frequent | To analyze the chemical composition of the scientist who held that harad is known that its fruits on chebyulinik acid 30%, 45%, 30-Gaelic tainan acid acid, glycosides,Resin and dye substances are found. Glycosides play an important role in eliminating constipation | These elements all body organs and remove unnecessary items from the natural conditions are routine. It is very useful. Today we will gain some of harad-

1-a growing hunger by eating pieces of the harad chabakar |

2-small harad in the water ghiskar ass on day 3 times out of bark blisters are destroyed. After this you can also chuns night |

Allow to soak for 3-small harad | Night eating eating stomach chew chewing clean and gas decreases.

4-create a sauce of harad fruit raw | One teaspoon three times the amount of intake of this sauce thin stools are turned off.

5-the amount of a teaspoon harad mixed with raisins and amlapitt (acidity) is OK.

6-haritki powder morning evening eating with black salt phlegm gets finished.

7-all in a honey to harad chatne upside to be closed |

Down

About Mohammad Daeizadeh

  • تمامی فایل ها قبل از قرار گیری در سایت تست شده اند.لطفا در صورت بروز هرگونه مشکل از طریق نظرات مارا مطلع سازید.
  • پسورد تمامی فایل های موجود در سایت www.parsseh.com می باشد.(تمامی حروف را می بایست کوچک وارد کنید)
  • Password = www.parsseh.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*