Home / Hindi / Eczema – एक्ज़िमा

Eczema – एक्ज़िमा

Eczema

एक्ज़िमा (ECZIMA)
एक्ज़िमा एक प्रकार का चर्म रोग है जिसमें रोगी की स्थिति अति कष्टपूर्ण होती है| इस रोग की शुरुआत में रोगी को तेज़ खुजली होती है तथा बार-बार खुजाने पर उसके शरीर में छोटी-छोटी फुंसियां निकल आती हैं | इन फुंसियों में भी खुजली और जलन होती है तथा पकने पर उनमें से मवाद बहता रहता है और फिर यह जख्म का रूप ले लेता है |
एक्ज़िमा शरीर के किसी भी भाग में एक गोलाकार दाने के रूप में पैदा होता है जिसमें हर समय खुजली होती रहती है | मुख्य रूप से यह रोग खून की खराबी के कारण होता है और चिकित्सा न कराने पर तेज़ी से शरीर में फैलता है | कब्ज़,हाज़मे की खराबी आदि और भी कारण से एक्ज़िमा हो सकता है | इस रोग में सफाई रखना अत्यंत आवश्यक है क्योंकि यह संक्रमित रोग है | एक्ज़िमा में रोगी को खून साफ़ करने वाली औषधियों का प्रयोग करने के साथ-साथ नहाने के पानी में नीम की पत्तियां या एंटीसेप्टिक लिक्विड डालकर नहाना चाहिए| रोगी को खट्टी-मीठी वस्तुओं का प्रयोग नहीं करना चाहिए |
आज हम आपको एक्ज़िमा के उपचारार्थ कुछ औषधि बताएंगे –

१- नारियल के तेल में कपूर मिलाकर एक्ज़िमा वाले स्थान पर लगाने से लाभ होता है |

२- अजवायन को पानी के साथ पीसकर लेप बना लें | इस लेप को प्रतिदिन पीड़ायुक्त स्थान पर लगाने से कुछ ही दिनों में एक्ज़िमा समाप्त हो जाता है |

३- नीम के कोमल पत्तों का रस निकालकर उसमें थोड़ी सी मिश्री मिला लें | इसे प्रतिदिन सुबह पीने से खून की खराबी दूर होकर एक्ज़िमा ठीक होने लगता है |

४- हरड़ को गौमूत्र में पीसकर लेप बना लें | यह लेप प्रतिदिन दो से तीन बार एक्जिमा पर लगाने से लाभ होता है |

५- आश्रम द्वारा निर्मित कायाकल्प तेल के प्रयोग से भी एक्ज़िमा में बहुत लाभ होता है | यह तेल दिन में दो बार पीड़ायुक्त स्थान पर लगाने से आराम मिलता है |

६- एक लीटर तिल के तेल में २५० ग्राम कनेर की जड़ को उबालें | कुछ देर उबालने के बाद यह जड़ जल जाती है | इसे ठण्डा करके छान लें| इस तेल को प्रतिदिन रुई से एक्ज़िमा पर सुबह-शाम लगाने से एक्ज़िमा जल्दी ही ठीक हो जाता है |

 Story Source: पूज्य आचार्य

******************

Eczema (ECZIMA.)
Eczema is a skin disease in which the patient’s situation is extreme kashtapurn | At the beginning of the disease the patient is itching and pounding her body repeatedly tiny khujane phunsiyan fall out | These phunsiyon are also itching and irritation and ripening them keeps pus flows and it takes the form of scars |
Eczema in any part of the body as a circular rash that may itch all the time lives | Mainly this disease is caused by malfunction of blood and provide faster medical spreads in the body not | Constipation, hazme malfunction etc and also may cause eczema | This disease is very important to keep clean because it infected disease | Eczema in patients using the drugs to clear the blood, as well as bath water and liquid detergent or antiseptic neem leaves bath | The patient must not use sour-sweet items |
Today we will show you some medicine Eczema of the proforma-

1-all the camphor in coconut oil would benefit from putting in place Eczema |

2-make a liniment with water thyme | This liniment daily pidayukt on by a few days eczema ends |

3-remove the soft leaves of Neem juice contains the slightest mishri mix | It passes away the blood from drinking daily morning malfunction seems to be OK Eczema |

4-make a liniment in the harad gaumutra | This liniment to put on two to three times a day would benefit from eczema |

5-Ashram built by using very rejuvenating oil would benefit even Eczema | This oil twice a day to get comfortable with putting in place pidayukt |

6-a-liter 250 grams of sesame oil boil to the root of the Kaner | While this is root water boil | It is cold filtered by bike | On the morning of each day clean the oil eczema-eczema by applying the evening soon goes well.

Down

About Mohammad Daeizadeh

  • تمامی فایل ها قبل از قرار گیری در سایت تست شده اند.لطفا در صورت بروز هرگونه مشکل از طریق نظرات مارا مطلع سازید.
  • پسورد تمامی فایل های موجود در سایت www.parsseh.com می باشد.(تمامی حروف را می بایست کوچک وارد کنید)
  • Password = www.parsseh.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*