Home / Hindi / चावल – Rice

चावल – Rice

Rice

चावल

यह मूलतः भारत एवं चीन में पाया जाता है | इसकी विश्व के सभी उष्ण कटिबंधीय एवं उप उष्णकटिबंधीय देशों में कृषि होती है | चावल के शीतल एवं शक्तिवर्धक होने की वजह से इसका प्रयोग प्राचीन काल से भोज्य के रूप में किया जा रहा है । आयुर्वेद की संहिताओं में चावल के कई भेदों का उल्लेख प्राप्त होता है | धान को ओखली में या मशीनों द्वारा पीसकर उसके ऊपर के छिलकों को अलग किया जाता है | बिना छिलकों के धान के दानों को चावल कहा जाता है | यह मुख्यतः बारिश के मौसम की फसल है | आयुर्वेद के अनुसार केवल ६० दिनों में तैयार होने वाले साठी चावल अधिक गुणकारी माने जाते हैं | कारखाने में पॉलिश किये गए चावलों की अपेक्षा हाथकूट के चावल उत्तम होते हैं |
आईये जानतें हैं चावल के कुछ औषधीय गुण –

१- चावलों में चर्बी का तत्त्व बहुत कम होने से ये पचने में अतिशय लघु और हलके होते हैं | चावल के साथ दाल मिलाने से उसका वायुकारक गुण कम हो जाता है | अतः रोगियों के लिए चावल और मूंग की दाल की खिचड़ी पचने में हलकी और पौष्टिक मानी जाती है |

२- चावल को पकाकर, छाछ के साथ सेवन करने से गर्मी,अत्यधिक प्यास,जी मिचलाना तथा अतिसार में लाभ होता है |

३- चावल को भूनकर, रात भर पानी में भिगोकर सुबह छानकर उस पानी को पीने से पेट के कीड़े मर जाते हैं |

४- सफ़ेद चावलों को पानी में भिगोकर उस पानी से चेहरे को धोने से झाईयां मिटती हैं |

५- चावलों को पकाकर प्राप्त मांड को या चावल को दही के साथ खाने से दस्त में लाभ मिलता है |

६- चावल की प्रकृति ठंडी होती है | पेट में गर्मी होने पर एवं गर्मी के मौसम में प्रतिदिन चावल खाने से शरीर को ठंडक मिलती है |

७- एक गिलास चावल के पानी में मिश्री मिलाकर पीने से पेचिश व रक्तप्रदर में लाभ होता है |

 Story Source: पूज्य आचार्य

*****************

Rice

It is found in India and China. All of its global agriculture in tropical and sub tropical countries occurs. Rice is soft and her positive dope tests due to be used as food since ancient times is being used. Ayurveda refers to several codes of rice get bhedon | Paddy okhli or by machines separating mixture is used up her chilkon | Without chilkon is called rice paddy of granules | It mainly rains season harvest | According to Ayurveda in only 60 days are considered greater upcoming sathi rice with evil orientation like him | Expect the factory polished rice hathkut rice are the best |
Let’s prepare are some medicinal properties of rice-jonatan

1-drain fat from being so low in these elements of the most pachne are small and light. Shake the lentils with rice wieczorek properties falls short | Therefore, for patients with rice and moong Dal khichdi is considered mild and nourishing in pachne |

2-to baked rice, buttermilk drink with the heat, excessive thirst, would benefit in-ji michlana and diarrhea |

3-bhigokar bhunkar, the rice overnight in water from drinking water that morning chankar intestinal worms die |

4-white rice water to wash the face with water bhigokar in the jhaiyan mitti |

5-get to baked rice starch or rice in diarrhea by eating yogurt with benefits |

6-is the nature of cold rice | When the heat in the stomach and eating rice every day in summer season brings coolness to the body |

7-all in a glass of drinking water of rice mishri dysentery and raktapradar in profit |

About Mohammad Daeizadeh

  • تمامی فایل ها قبل از قرار گیری در سایت تست شده اند.لطفا در صورت بروز هرگونه مشکل از طریق نظرات مارا مطلع سازید.
  • پسورد تمامی فایل های موجود در سایت www.parsseh.com می باشد.(تمامی حروف را می بایست کوچک وارد کنید)
  • Password = www.parsseh.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*