Home / Hindi / Bitter gourd – करेला

Bitter gourd – करेला

Bitter gourd

करेला
करेला के गुणों से सब परिचित हैं |
मधुमेह के रोगी विशेषतः इसके रस और सब्जी का सेवन करते हैं | समस्त भारत में इसकी खेती की जाती है | इसके पुष्प चमकीले पीले रंग के होते हैं | इसके फल ५-२५ सेमी लम्बे,५ सेमी व्यास के,हरे रंग के,बीच में मोटे,सिरों पर नुकीले,कच्ची अवस्था में हरे तथा पक्वावस्था में पीले वर्ण के होते हैं | इसके बीज ८-१३ मिमी लम्बे,चपटे तथा दोनों पृष्ठों पर खुरदुरे होते हैं जो पकने पर लाल हो जाते हैं | इसका पुष्पकाल एवं फलकाल जून से अक्टूबर तक होता है | आज हम आपको करेले के कुछ औषधीय प्रयोगों से अवगत कराएंगे –

१- करेले के ताजे फलों अथवा पत्तों को कूटकर रस निकालकर गुनगुना करके १-२ बूँद कान में डालने से कान-दर्द लाभ होता है |

२- करेले के रस में सुहागा की खील मिलाकर लगाने से मुँह के छाले मिटते हैं |

३-सूखे करेले को सिरके में पीसकर गर्म करके लेप करने से कंठ की सूजन मिटती है ।

४- १०-१२ मिली करेला पत्र स्वरस पिलाने से पेट के कीड़े मर जाते हैं |

५- करेला के फलों को छाया शुष्क कर महीन चूर्ण बनाकर रखें | ३-६ ग्राम की मात्रा में जल या शहद के साथ सेवन करना चाहिए | मधुमेह में यह उत्तम कार्य करता है | यह अग्नाशय को उत्तेजित कर इन्सुलिन के स्राव को बढ़ाता है |

६- १०-१५ मिली करेला फल स्वरस या पत्र स्वरस में राई और नमक बुरक कर पिलाने से गठिया में लाभ होता है |

७- करेला पत्र स्वरस को दाद पर लगाने से लाभ होता है | इसे पैरों के तलवों पर लेप करने से दाह का शमन होता है|

८- करेले के १०-१५ मिली रस में जीरे का चूर्ण मिलाकर दिन में तीन बार पिलाने से शीत-ज्वर में लाभ होता है |

 Story Source: पूज्य आचार्य

**************

Bitter gourd
Are all familiar properties of bitter gourd |
Diabetes patient especially in juices and vegetable drink | In all India cultivated | It consists of bright yellow flower | Its fruit 5-25 cm long, 5 cm diameter, green, sharp at the ends, thick in the Middle, raw in green and pakvavastha are the yellow character | Its seeds 8-13 mm long, flattened and both pages are khurdure which are red on ripening. The pushpakal and phalkal is from June until October. Today we shall be aware of some of the pharmacological experiments-bitter gourd

1-kutkar fresh fruits or leaves of bitter gourd juice by humming by removing 1-2 drop in the ear to ear-ache would benefit |

2-bitter gourd juice by mouth blisters of all ball-bearing suhaga mitte |

3 by the vinegar mixture in hot dry-bitter gourd from inflammation of the liniment is mitti kanth.

4-10-12 ml bitter gourd letter serves feeds intestinal worms die |

5-the shadow of bitter gourd fruit keep finer powders and dry | 3-6 g in the amount of water should be consumed with or honey | Serves the best in diabetes | It enhances insulin secretion of pancreatic stimulate |

6-10-15 found in rye and bitter gourd fruit serves or letter serves salt would benefit in feeds by burak arthritis |

7-bitter gourd would benefit from putting the shingles on the letter serves | Doing it on the soles of the feet is mitigation of liniment Dah |

Found 10-15 8-bitter gourd juice jire mixed all three times a day would benefit in cold-fever feeds |

About Mohammad Daeizadeh

  • تمامی فایل ها قبل از قرار گیری در سایت تست شده اند.لطفا در صورت بروز هرگونه مشکل از طریق نظرات مارا مطلع سازید.
  • پسورد تمامی فایل های موجود در سایت www.parsseh.com می باشد.(تمامی حروف را می بایست کوچک وارد کنید)
  • Password = www.parsseh.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*