Home / Hindi / मलेरिया – Malaria

मलेरिया – Malaria

Malaria

मलेरिया
मलेरिया एक वाहक-जनित संक्रामक रोग है जो प्रोटोज़ोआ परजीवी द्वारा फैलता है। मलेरिया सबसे प्रचलित संक्रामक रोगों में से एक है तथा भंयकर जन स्वास्थ्य समस्या है।मलेरिया के परजीवी का वाहक मादा एनोफ़िलेज़ (Anopheles) मच्छर है। इसके काटने पर मलेरिया के परजीवी लाल रक्त कोशिकाओं में प्रवेश कर के बहुगुणित होते हैं जिससे रक्तहीनता (एनीमिया) के लक्षण उभरते हैं (चक्कर आना, साँस फूलना, द्रुतनाड़ी इत्यादि) । इसके अलावा अविशिष्ट लक्षण जैसे कि बुखार, सर्दी, उबकाई, और जुखाम जैसी अनुभूति भी देखे जाते हैं। गंभीर मामलों में मरीज मूर्च्छा में जा सकता है और मृत्यु भी हो सकती है
मलेरिया का बुखार ठण्ड लगकर आता है | इस बुखार में रोगी के शरीर का तापमान १०१ -१०५ डिग्री तक बना रहता है | इसमें रोगी के जिगर और तिल्ली बढ़ जाते हैं |
आईये जानते हैं मलेरिया बुखार के कुछ उपचार –
१- तुलसी के सेवन से प्रकार के बुखारों में लाभ होता है | १० ग्राम तुलसी के पत्ते और ७ काली मिर्च को पानी में पीस कर सुबह और शाम लेने से मलेरिया बुखार ठीक होता है |

२- अमरुद का सेवन मलेरिया में लाभप्रद है | मलेरिया बुखार में प्रतिदिन एक अमरुद खाना चाहिए |

३- प्याज़ के आधे टुकड़े का रस निकाल लें और उसमे एक चुटकी काली मिर्च मिला लें | सुबह -शाम इसके सेवन से मलेरिया बुखार में आराम मिलता है |

४- ५०-६० ग्राम नीम के हरे पत्ते और चार काली मिर्च एक साथ पीस लें | अब इसे १२५ मिलीलीटर पानी में उबाल लें | छानकर पीने से मलेरिया में लाभ होता है|

५- गिलोय के काढ़े या रस में शहद मिलाकर ४०-८० मिलीलीटर की मात्रा में रोज़ सेवन करने से मलेरिया में लाभ होता है ।

६- धनिया और सौंठ के चूर्ण को बराबर मात्रा में मिलाकर रोज़ दिन में तीन बार पानी से लें | ऐसा करने से मलेरिया के बुखार में राहत मिलती है |

७- आधे नींबू पर काली मिर्च का चूर्ण और कालानमक लगाकर धीरे -धीरे चूसने से मलेरिया बुखार दूर होता है |

 Story Source: पूज्य आचार्य

 *********************

Malaria
Malaria is a vector – borne infectious disease that is transmitted by parasitic protozoans. Malaria is one of the most prevalent infectious diseases and has tremendous public health problem. Anofilejh female carriers of the parasite of malaria (Anopheles) mosquito. The bite of malaria parasites enter red blood cells multiply, causing anemia (anemia) are emerging symptoms (dizziness, shortness of breath, tachycardia, etc.). Besides nonspecific symptoms such as fever, cough, nausea, and flu-like sensation are still found. In severe cases, the patient is unconscious and can even cause death
Against Malaria fever is cold | The patient’s body temperature in fever lasts 101 -105 degrees | the patient’s liver and spleen grow |
Let us know some of malaria fever treatment –
1 – Basil kinds of fevers, currently has the benefit of intake | 10 g basil leaves and pepper 7 grind in the water is fine morning and evening to take malaria fever |

2 – Guava intake is beneficial in malaria | Malaria fever should eat every day Guava |

3 – Remove the juice of half a piece of onion and a pinch of pepper in it mix | Morning – evening consumption of malaria fever prop |

4 – 50-60 grams of neem leaves and four green pepper grind together | 125 milliliters of water and boil it now | filter drinking profit in malaria |

5 – Giloy honey in decoction or juice daily intake of 40-80 ml ​​volume gains in malaria.

6 – Saunth coriander powder and mixed with an equal volume of water thrice daily Subscribe | Doing so gives relief from malaria fever |

7 – Kalanmk by half lemon pepper powder and gradually malaria fever is far from sucking |

 

 

Down

About Mohammad Daeizadeh

  • تمامی فایل ها قبل از قرار گیری در سایت تست شده اند.لطفا در صورت بروز هرگونه مشکل از طریق نظرات مارا مطلع سازید.
  • پسورد تمامی فایل های موجود در سایت www.parsseh.com می باشد.(تمامی حروف را می بایست کوچک وارد کنید)
  • Password = www.parsseh.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*