Home / Hindi / Builders and shoulder the burden of India U.S. Dollar raids and we suffer – मित्रो अमेरिका ब्रिटेन समेत पूरे यूरोप की currency ही बेकार है

Builders and shoulder the burden of India U.S. Dollar raids and we suffer – मित्रो अमेरिका ब्रिटेन समेत पूरे यूरोप की currency ही बेकार है

currency

********** Dollars, euros and pounds black true **************
Is a mere piece of paper dollars and euros and pounds ******** ******

Builders and shoulder the burden of India

U.S. Dollar raids and we suffer …

With our friends in the international betrayal is so huge and the people are sleeping is fun

Not only .. Europe has only the poor are to be performed lay there everyday … but it does the United States have the same working

These countries have now resorted to peak punk … and the burden falls on India Rs .. because our government takes from them so that they are covered , such Agreement .. the Agreement, and has recently obmutescent Baba

Think 4 Yourself a city street beggars Seth taking a giant’s agreement not only come on the road .. and then he will enjoy Bikhari

Do not cultivated in these countries than their engineer from India more than Indians do not mind how rich it is yet again …

Because of these robbers .. and .. certainly, they have plundered the country, not because we want them to eat the nasty junk that Modi came .. because it will not even get

1950 was the big deal about these is that so .. 5 -km-long line for the bread seemed to be native ..

Truly speaking friends .. the country .. The day India want 2 do not take shit … the whole country will be killed Bhukho …

******************

********** डॉलर, यूरो और पोंड का काला सच**************
********मात्र कागज़ का टुकडा है डॉलर और यूरो और पोंड ******

मित्रो अमेरिका ब्रिटेन समेत पूरे यूरोप की currency ही बेकार है … असल में एक और अमेरिका अब खुल्लम खुल्ला डॉलर छाप रहा है ..जब उसकी currency dilute हो जाती है तो वो भारत सरकार को आदेश देकर रूपया गिरा देता है ….और सारा बोझ भारत के कंधे पर आजाता है

डॉलर छापे अमेरिका और भुगते हम …

मित्रो हमारे साथ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इतना बड़ा विश्वासघात हो रहा है और देश के लोग मजे से सो रहे है

इतना ही नहीं ..यूरोप तो कंगाल ही हो चुका है वहा रोज धरने प्रदर्शन हो रहे है …पर ये भी वही काम कर रहे है जो अमेरिका करता है

ये देश अब गुंडा गर्दी पर उतर आए है … और सारा बोझ भारत के रूपए पर आ गिरता है ..क्यूंकि हमारी सरकार इनसे ऐसे अग्रीमेंट कर लेती है जिससे इनकी भरपाई हो ..हाल ही में मौनी बाबा ने एक अग्रीमेंट और किया है

आप खुद सोच लो कोई नगर सेठ गली के 4 भिखारियों से कोई बड़ा सा अग्रीमेंट कर ले तो वो तो सड़क पर आएगा ही ना ..और बिखारी मौज करेंगे

इन देशो में न खेती होती न इनके पास भारत से ज्यादा engineer न भारतीयों से ज्यादा दिमाग …फिर ये अमीर कैसे है अभी तक

क्यूंकि ये लुटेरे है ..और हम लुट रहे है ..निश्चित ही ये देश इसलिए नहीं चाहते कि मोदी आए ..क्यूंकि तब इनको खाने को गंदा कबाड़ भी नसीब नहीं होगा

एक बार 1950 के लगभग इनमे इतनी आफत आ गई थी कि ..एक रोटी के लिए 5 किलोमीटर लम्बी लाइन लगती थी इन देशी में ..

सच बता रहा हूँ दोस्तों ..ये देश 2 कौड़ी के नहीं है ..जिस दिन भारत चाह ले …ये सारे देश भूखो मारे जाएँगे …

Story Source: पूज्य आचार्य

About Mohammad Daeizadeh

  • تمامی فایل ها قبل از قرار گیری در سایت تست شده اند.لطفا در صورت بروز هرگونه مشکل از طریق نظرات مارا مطلع سازید.
  • پسورد تمامی فایل های موجود در سایت www.parsseh.com می باشد.(تمامی حروف را می بایست کوچک وارد کنید)
  • Password = www.parsseh.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*