Home / Hindi / Custard apple : not only fruit, medicine – शरीफा : सिर्फ फल नहीं, औषधि भी

Custard apple : not only fruit, medicine – शरीफा : सिर्फ फल नहीं, औषधि भी

Custard apple

Custard apple : not only fruit, medicine

Custard apple: not only fruit, custard apples medicine (custard apple) is a sweet fruit. Considerable amounts of calories. It is easy to digest and recurring ulcer disease and bile acid is more beneficial. The Iron and Vitamin C – is a good source.
In many diseases panacea
Boil: Grind the leaves of custard apple abscesses, boils recover from applying.
Burning body: made of custard apple pulp juice consumption or the burning of body fixes.
Hair Diseases: grind with goat milk custard apple seed head of hair blown hairs come up again.
Juon the fall: custard apple seed head at night to take a fine grind and a coarse cloth tied Sleep well in the head. The Juan die.
Diarrhea: Diarrhea and dysentery pumpkin eating raw fruits useful. Best fruits, medicine body weakness, fatigue, meat – in the case of Weak muscles are Mansvriddhi consumption of pumpkin. The body is extremely great fruit. Nervousness, makes natural action of the heart. It has a large variety and the Ramphal says. Eat it as a fruit diet on fasting days
Amenities. It is consumed as dietary supplements.

 शरीफा : सिर्फ फल नहीं, औषधि भी

शरीफा : सिर्फ फल नहीं, औषधि भी शरीफा (सीताफल) एक मीठा फल है. इसमें काफी मात्र में कैलोरी होती है. यह आसानी से हजम होनेवाला और अल्सर व अम्ल पित्त के रोग में ज्यादा लाभकारी होता है. इसमें आयरन और विटामिन-सी का एक अच्छा स्रोत है.
कई रोगों में रामबाण
फोड़ा: शरीफा के पत्तों को पीस कर फोड़ों पर लगाने से फोड़े ठीक हो जाते हैं.
शरीर की जलन : शरीफा सेवन करने या इसके गूदे से बने शरबत शरीर की जलन को ठीक करता है.
बालों के रोग : शरीफा के बीजों को बकरी के दूध के साथ पीस कर बालों में लगाने से सिर के उड़े हुए बाल फिर से उग आते हैं.
जूओं का पड़ना : शरीफा के बीजों को बारीक पीस कर रात को सिर में लगा लें और किसी मोटे कपड़े से सिर को अच्छी तरह बांध कर सो जाएं. इससे जुएं मर जाती हैं. इस बात का ध्यान रखें कि यह आंखों तक न पहुंचे, क्योंकि इससे आंखों में जलन व अन्य नुकसान हो सकता है.शरीफा के पत्तों का रस बालों की जड़ो में अच्छी तरह मालिश करने से जुएं मर जाती हैं.
अतिसार: सीताफल का कच्चा फल खाना अतिसार और पेचिश में उपयोगी है. श्रेष्ठ फल ही नहीं, औषधि भी शरीर की दुर्बलता, थकान, मांस-पेशियां क्षीण होने की दशा में सीताफल का सेवन करने से मांसवृद्धि होती है. यह शरीर के लिए अत्यंत श्रेष्ठ फल है. घबराहट, हृदय की क्रिया को स्वाभाविक बना देता है. इसकी एक बड़ी किस्म और होती है, जिसे रामफल कहते हैं. व्रत के दिनों में फलाहार के रूप में इसे खाते
हैं. पूरक आहार के रूप में इसका सेवन किया जाता है.

Story Source: पूज्य आचार्य

About Mohammad Daeizadeh

  • تمامی فایل ها قبل از قرار گیری در سایت تست شده اند.لطفا در صورت بروز هرگونه مشکل از طریق نظرات مارا مطلع سازید.
  • پسورد تمامی فایل های موجود در سایت www.parsseh.com می باشد.(تمامی حروف را می بایست کوچک وارد کنید)
  • Password = www.parsseh.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*